technewsok

Breaking
Loading...
Menu

Friday, 3 January 2020

Through the Government of India scheme, every woman will get Rs. 3500 in direct bank account

Through the Government of India scheme, every woman will get Rs. 3500 in direct bank  account

MITRO GUJRAT MA AK NEW YOJNA SRU KRVAMA AVI SE TE MATE SHAY MELVAVA MATE MITRO AMARI SATHE JODAVA BHARAT SARKAR NI YOJNA DRVARA HVE DREK MHILANE MLSE 3500 RUPIYA SIDHA BANK ACCOUNT MA JLDI LABH UTHAVO A YOJNAN NO MITRO KEVI RITE FORM BHARVA MATE VIDEO JOVO MATE NICHENI LINK PAR CLICK KARO 👉 🌹VIDEO JOVO MATE NICHENI LINK PAR CLICK KARO

MITRI GUJRAT NA BDHA SMACHARO JOVA MATE 
AND NEWS JOVA MATE AND FORM BHARVA MATE VIDEO JOVO MATE SRKARI NOKRI NI BHARTI VISE JANVA MATE AMARI SATHE JODAVA MATE HELLO APP JAINE SERCH KARO 👉 🌹 ALL SINGER FAN NEWS AND FLOW KRO AND LIKE KRO AND LIKE KRO

Sunday, 8 December 2019

ऐसा काम *करते पकड़ी गई* लड़कियी के वायरल वीडियो

ऐसा काम *करते पकड़ी गई* लड़कियी के वायरल वीडियो
It is very difficult to completely control it once it comes to body fatness. But if the time is started (only after the start of obesity) treatment can be controlled. By controlling the amount of fat in food, if you adopt the following home remedies, you can control your obesity at the time:



After getting up from morning-to-morning defecation, take a big glass of light hot water and add 1 teaspoon of honey and 1 lemon juice; Now add some powder (1/4 teaspoon) of black pepper powder and eat it. Use it continuously for at least 3 months and keep doing these solutions till better results.

In the morning - morning empty stomach 1/2 glass of bitter gourd mixed with a lemon juice and drinking it reduces the stomach fat. This remedy should be used for more than one month with advice from a good doctor.

Boil a large glass of water and add one spoonful of soup to it while boiling. After boiling half a minute, take this water for cooling. Make this remedy every day for 2 months and see the results, soon obesity / Motapa will start controlling.

Drinking a mixture of lemon and black salt in a glass of warm (warm) water every morning, it reduces obesity.

After eating in the afternoon, after drinking a large glass of buttermilk, drink black salt and celery together. You can do this every day to control obesity.

By eating empty stomach, one or two tomatoes daily, obesity slowly decreases. In addition, consumption of raw cabbage is also helpful in reducing stomach fat.

Mix one spoon of cinnamon powder and one spoon organic honey in a cup of hot water and take the empty stomach in the morning. With this experiment, obesity is controlled soon.

At present, intake of Green Tea has been very effective in reducing obesity / motapa. According to scientific research, continuously using Green Tea, the excess fat stomach starts decreasing. Green Tea should be consumed thrice a day. Using empty stomach green Tea in the morning is more effective in reducing stomach fat.

The use of ginger has also been effective in reducing obesity. A person suffering from obesity should eat ginger.

Intake of triphala powder is also helpful in controlling obesity. For this, boil 10 grams triphala powder in a glass of water for a while and take it in the morning and evening.

Tuesday, 21 May 2019

Exit Poll के बाद एमपी में क्यों मचा सियासी घमासान, क्या बदलेगी सत्ता?

Exit Poll के बाद एमपी में क्यों मचा सियासी घमासान, क्या बदलेगी सत्ता?

लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल में बीजेपी की बहुमत से जीत के अनुमान ने मध्य प्रदेश की सियासत गरमा दी है. 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कुछ ही सीटों के अंतर से सत्ता पाने से चूकी बीजेपी अब फिर से सियासी कसरत में जुट गई है. राज्य में सत्ता के नए समीकरण उभरने के संकेत मिलने लगे हैं. एग्जिट पोल के नतीजों से उत्साहित  बीजेपी ने जहां फ्लोर टेस्ट की मांग कर दी है. वहीं कांग्रेस नेताओं ने अपने विधायकों को बीजेपी से ऑफर मिलने की बात कहकर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाया है.
दरअसल, राज्य में बीजेपी की सत्ता परिवर्तन की कोशिशों को बल तब मिला, जब एग्जिट पोल के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने दो टूक कह दिया कि कमलनाथ सरकार 22 दिनों से अधिक नहीं चलने वाली. इससे माना जा रहा है कि अगर 23 मई को नतीजे बीजेपी के पक्ष में आते हैं तो फिर कमलनाथ सरकार के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है. क्योंकि कमलनाथ सरकार के सामने बहुमत साबित करने की चुनौती होगी. आज तक-एक्सिस माइ इंडिया के एग्जिट पोल में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से बीजेपी को 26 से 28 और कांग्रेस को 1 से 3 सीटें मिलने का अनुमान है.
खतरे के निशान पर है कांग्रेस
मध्य प्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं. कमलनाथ सरकार बसपा के दो, सपा के एक और 4 निर्दलीय विधायकों के समर्थन से किसी तरह चल रही है. कमलनाथ सरकार को जहां 121 विधायकों का समर्थन हासिल है, वहीं बीजेपी के पास 109 विधायक हैं. हालांकि मुख्यमंत्री कमलनाथ का दावा है कि उनके पास बहुमत है और उनकी सरकार पूर्व में कई मौकों पर यह साबित भी कर चुकी है. कांग्रेस नेता बीजेपी पर ख्याली पुलाव पकाने का आरोप लगाते हैं.
बीजेपी ने बढ़ाई धड़कनें
एग्जिट पोल के नतीजे आने के बाद नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने राज्यपाल को पत्र लिखकर विधानसभा सत्र बुलाकर फ्लोर टेस्ट पर विचार की मांग की है. माना जा रहा है कि बीजेपी को पूरा भरोसा है कि कमलनाथ सरकार अल्पमत में चल रही है. क्योंकि इस वक्त कमलनाथ सरकार से कई विधायक असंतुष्ट चल रहे हैं. कांग्रेस के पांच विधायक मंत्री न बनने के कारण असंतुष्ट हैं. सूत्रों की मानें तो ये विधायक लोकसभा चुनाव के दौरान अमित शाह से भी मुलाकात कर चुके हैं. यह भी कहा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद बसपा और सपा के विधायक भी पाला बदलकर बीजेपी के साथ आ सकते हैं. ऐसे में बीजेपी फ्लोर टेस्ट का दांव चलकर कमलनाथ सरकार को सत्ता से बाहर करने की कोशिश में है. सूत्र बता रहे हैं कि जोड़तोड़ की स्थिति में विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिशें भी हो सकतीं हैं.

ऐश्वर्या राय पर विवादित मीम का खामियाजा, चैरिटी इवेंट से बाहर हुए विवेक ओबेरॉय

ऐश्वर्या राय पर विवादित मीम का खामियाजा, चैरिटी इवेंट से बाहर हुए विवेक ओबेरॉय

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन पर विवादित मीम शेयर कर एक्टर विवेक ओबेरॉय की हर तरफ चर्चा है. हालांकि, उन्होंने मंगलवार को अपने ट्वीट पर माफी मांग ली. लेकिन उनकी मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. ऐश्वर्या राय पर असंवेदनशील ट्वीट के बाद एक चैरिटी ऑर्गेनाइजेशन (स्माइल फाउंडेशन) ने विवेक ओबेरॉय को अपने इवेंट से ड्रॉप कर दिया है.
स्माइल फाउंडेशन ने एक बयान में लिखा, ''विवेक ओबेरॉय की सोशल मीडिया पोस्ट के आधार पर स्माइल फाउंडेशन सेलेब्रिटी से खुद को अलग करता है. विवेक को DLF Promenade में ओडिशा फानी चक्रवात के लिए फंड रेजिंग इवेंट का हिस्सा बनना था. हमारा संस्थान महिला शक्तिकरण के लिए स्टैंड करता है. विवेक ओबेरॉय का बयान हमारी विचारधारा के साथ मेल नहीं खाता है.''
विवेक ओबेरॉय की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही है. बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर, मधुर भंडारकर, अनुपम खेर समते कई सितारों ने विवेक को ओड़े हाथों लिया है. सोनम ने विवेक को क्लासलेस कहा था. जिसके जवाब में विवेक ने सोनम को कहा कि वे ज्यादा ओवर रिएक्ट कर रही हैं.
विवेक ने माफी में क्या लिखा था?
विवेक ने पहले तो साफ कहा था कि वे ट्वीट डिलीट नहीं करेंगे ना ही माफी मांगेंगे. लेकिन 24 घंटे के अंदर ही तमाम आलोचनाओं से घिरने के बाद उन्होंने माफी मांगी और ट्वीट भी डिलीट किए. एक्टर ने लिखा- "कई बार जो फनी और किसी को चोट नहीं पहुंचाने वाला लगता है, हो सकता है वैसा दूसरे को नहीं लगे. मैंने 10 साल तक करीब दो हजार लड़कियों के बेहतर भव‍िष्य के लिए काम किया है. मैं किसी मह‍िला को अपमान‍ित करने के बारे में सोच भी नहीं सकता हूं. मेरे मीम से अगर किसी महिला की भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं माफी मांगता हूं. ट्वीट ड‍िलीटेड."

Friday, 10 May 2019

ऐसा काम *करते पकड़ी गई* लड़कियी के वायरल वीडियो

ऐसा काम *करते पकड़ी गई* लड़कियी के वायरल वीडियो

             
        





💋फूल वीडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करे 👙👙


कर्क, सिंह, मिथुन : -

आप आने वाले समय में पुराने कर चुकाने में सफलता हासिल कर सकते हैं। भोलेनाथ जी की कृपा से आपकी हर कार्य अच्छी तरीके से संपन्न हो सकते हैं। आने वाला समय आपके लिए बहुत ही अहम साबित होने वाला है जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। रुके हुए सभी प्रकार के कार्य आपके जल्दी से जल्दी खत्म होने वाले हैं। जिंदगी में बड़े परिवर्तन आने वाले हैं। जीवनसाथी की ओर से आपको नई बात रखी जा सकती है। गुजरा हुआ वक्त आपको बहुत सिखाने वाला वाला है। पुराने साथी से मिलकर आप बहुत ज्यादा खुश नजर आ सकते हैं। आपने कभी सोचा भी नहीं होगा अच्छी तरीके से किया गया कार्य सफलता दिलाता है। आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। उस तरह के आपको अच्छे परिणाम हासिल कर सकते हैं।


#5e5e5e; font-family: "Open Sans", sans-serif; font-size: 15px; outline: 0px; transition: all 0.3s ease 0s;" /> मेष, वृषभ, मकर : -

अच्छी तरह से आप सफलता हासिल करके आगे बढ़ने वाले हैं। विद्यार्थी वर्ग अपने पढ़ाई में बहुत ज्यादा ध्यान दे सकते हैं। सेहत के लिए आपका इस दिन घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं। आने वाले सभी प्रकार के जिम्मेदारी का अंत होने वाला है आप इस दिन अपने महत्वपूर्ण बारे में ज्यादा ध्यान दे सकते हैं। घर के सभी प्रकार के संभावित मामले उस दिन आप के खत्म होने वाले हैं। कानूनी सभी प्रकार के मामले आपके इस दिन अच्छी तरीके से पूर्ण होने वाले हैं। पैसों से जुड़े हुए मामला में आप बड़ा डिसीजन ले सकते जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। अच्छी तरीके से किया गया कार्य आपको सफलता दिला सकता है। छोटे बच्चे जवानों से आपको अच्छी सहायक हासिल होने वाली है। नई योजना पर कार्य करने के लिए यह बहुत ही अच्छा दिन होने वाला है।

वृश्चिक, तुला, कन्या : -

आपके लिए रिश्तो से जुड़े बड़े मामले आपके उस दिन खत्म होने वाला है। घर परिवार में आपके किसी बात को लेकर वादी का जो सकते हैं सोची सोची हर कार्य आपके संपन्न होने वाले है। महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले आपको एक बार जरूर से सोचना चाहिए तभी आप हर कार्य में सफलता हासिल कर सकते हैं। नौकरी धंधे में आपका दिन बहुत ही खास करने वाला है। कार्य संबंधी आपके कार्य से बहुत खुश नजर आ सकते हैं। इसके कुछ कर्मचारियों से आपको नकारात्मकता सुनने को मिल सकती है। अच्छी तरह से किया गया कार्य आपको बहुत ज्यादा सफलता दिला सकता है। जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा अटके हुए सभी प्रकार के कार्य पूर्ण होने वाले है।

कुंभ, धनु, मीन : -

बुजुर्गों की ओर से आपको अच्छा सहयोग हासिल हो सकता है। आपको माता पिता के साथ को लेकर आप इस दिन चिंतित रह सकते है। बच्चों के परिणाम को लेकर आप इस दिन बहुत चिंतित रह सकते हैं। जिंदगी से जुड़े अहम फैसले लेने के लिए बहुत ही अच्छा दिन आपके लिए रहने वाला है। साथी के साथ यात्रा करने का आयोजन बना रहे हैं। अपने पैसो को लेकर आपको सचेत रहने की जरूरत है। वैवाहिक जीवन की नैया दिन बहुत ही खास रहने वाला है। कुछ नए परिवर्तन एक दिन आपको देखने को मिल सकते हैं। समाज सेवा में बहुत ज्यादा कार्य दिखा सकते हैं। गुजरा हुआ वक्त से आपको ज्यादा परेशान नजर आ सकते हैं।

बहुमत न मिलने पर भाजपा के पास विकल्प

बहुमत न मिलने पर भाजपा के पास विकल्प
p

लोकसभा चुनाव के 7 में से 5 चरण समाप्त हो चुके हैं। 23 मई को पता चल जाएगा कि केंद्र में किसकी सरकार बनेगी। भाजपा का दावा है कि इस चुनाव में उसे 300 सीटें मिलने जा रही हैं लेकिन राफेल डील विवाद, बढ़ती बेरोजगारी, नोटबंदी और किसानों की बदहाली जैसे कई बड़े मुद्दे हैं जो भाजपा को लोकसभा में बहुमत के लिए 272 का आंकड़ा भी हासिल करने में मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ‘चौकीदार चोर है’ अभियान ने भी प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता को काफी नुक्सान पहुंचाया है। इसके अलावा विपक्ष की 21 पार्टियों ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। राजनीतिक जानकारों के मुताबिक विपक्ष की एकजुटता के चलते भाजपा को सीधे-सीधे 100 सीटों का नुक्सान होने की सम्भावना है जो उसे पिछले चुनाव में मिली थीं। भारत के चुनावी इतिहास में दूसरी बार किसी व्यक्ति विशेष के खिलाफ राजनीतिक दलों ने मोर्चा खोला है। इससे पहले 1977 में इंदिरा गांधी के खिलाफ विपक्षी दल एकजुट हुए थे। अगर किन्ही कारणों से भाजपा को लोकसभा में साधारण बहुमत नहीं मिलता है तो भाजपा को सरकार बनाने के लिए जोड़तोड़ करना होगा और इन 4 विकल्पों में किसी एक को चुनना पड़ सकता है।
1. चुनाव के बाद का गठबंधन
एन.डी.ए. में इस समय 29 छोटी-बड़ी राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पाॢटयां शामिल हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की 282 सीटों सहित एन.डी.ए. को 336 सीटें मिली थीं। इस बार अगर एन.डी.ए. बहुमत से दूर रहता है तो उसे ओडिशा के बीजू जनता दल (बी.जे.डी.), तेलंगाना की तेलंगाना राष्ट्र समिति (टी.आर.एस.) और आंध्र प्रदेश की वाई.आर.एस. कांग्रेस से समर्थन मिल सकता है। बी.जे.डी. ने पिछले लोकसभा के कार्यकाल में भाजपा को कई मुद्दों पर समर्थन दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में आए तूफान ‘फनी’ से निपटने के लिए ओडिशा सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की जमकर तारीफ की है जिससे चुनाव के बाद दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन की सम्भावना को बल मिला है। तेलंगाना में टी.आर.एस. के अध्यक्ष के. चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश में वाई.आर.एस. कांग्रेस के अध्यक्ष जगन मोहन रैड्डी ने भी चुनाव के बाद भाजपा सरकार को समर्थन देने के संकेत दिए हैं।
2. महागठबंधन को तोड़ना
उत्तर प्रदेश की लोकसभा की 80 सीटों के लिए भाजपा के सामने अखिलेश यादव और मायावती का महागठबंधन मोर्चा खोले खड़ा है। 2014 के लोकसभा चुनाव में एन.डी.ए. को उत्तर प्रदेश की 80 सीटों में से 73 सीटें मिली थीं। सपा 5 जबकि बसपा एक सीट भी नहीं जीत पाई थी, लेकिन जो गठबंधन आज हुआ है अगर 2014 में हुआ होता तो देश की तस्वीर कुछ और ही होती। 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद सपा, बसपा, राष्ट्रीय लोक दल और कांग्रेस को महागठबंधन बनाने के लिए मजबूर होना पड़ा। इसका नतीजा उन्हें 2018 में कैराना, गोरखपुर और फूलपुर के संसदीय उपचुनावों में जीत हासिल करके मिला। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी लोकसभा सीट भी नहीं बचा पाए। 2019 के लोकसभा चुनाव में भी महागठबंधन का प्रदर्शन भाजपा से बेहतर होने की सम्भावना है। ऐसे हालात में मोदी-शाह टीम महागठबंधन को तोड़ सकती है। मायावती को डिप्टी पी.एम. पद के साथ-साथ उन पर जो सी.बी.आई., इन्कम टैक्स और ई.डी. के केस चल रहे हैं उनको भी वापस लेने का लालच दिया जा सकता है।
3. प्रधानमंत्री मोदी की होगी छुट्टी!
राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इस लोकसभा चुनाव में भाजपा को 100 सीटों तक का नुक्सान हो सकता है जो उसने 2014 में ‘मोदी लहर’ में जीती थीं। अगर भाजपा की गिनती 170 पर सिमटती है तो नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को चुनौती मिल सकती है। एन.डी.ए. के कई दलों की पहली पसंद प्रधानमंत्री मोदी नहीं है। रेस में सबसे आगे नितिन गडकरी हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि आर.एस.एस. नितिन गडकरी को नरेंद्र मोदी के विकल्प के तौर पर पेश कर सकती है। अन्य संभावित नामों में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का नाम प्रमुख है।
4. सहयोगी दलों से होगा अगला पी.एम.
यह ऐसी स्थिति है जिसमें भाजपा को न चाहते हुए भी सामना करना पड़ सकता है। अगर क्षेत्रीय पार्टियां जैसे जनता दल यूनाइटेड (जदयू), टी.आर.एस., ए.आई.डी.एम.के. या बी.जे.डी. अच्छा प्रदर्शन करते हैं और भाजपा की सहयोगी पार्टियों की कुल सीट संख्या भाजपा से ज्यादा होती है तो नीतीश कुमार, नवीन पटनायक या दक्षिण का कोई भी नेता देश का अगला प्रधानमंत्री बन सकता है।

लोगों की इच्छा है एक बार फिर से नरेंद्र मोदी की अगुआई में देश आगे बढ़े

लोगों की इच्छा है एक बार फिर से नरेंद्र मोदी की अगुआई में देश आगे बढ़े
लोगों की इच्छा है एक बार फिर से नरेंद्र मोदी की अगुआई में देश आगे बढ़े : सीएममुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि सभी की इच्छा है, एक बार फिर से नरेंद्र मोदी की अगुआई में देश आगे बढ़े और बिहार...मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि सभी की इच्छा है, एक बार फिर से नरेंद्र मोदी की अगुआई में देश आगे बढ़े और बिहार फिर से नाम करे। श्री कुमार शुक्रवार को भभुआ के हवाई अड्डा मैदान में एनडीए प्रत्याशी छेदी पासवान के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित किए और मतदाताओं से वोट डालने की अपील की। अगली कड़ी में डीएम नीतीश ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने पांच सालों में जो भी काम किया है उससे देश की प्रतिष्ठा बढ़ी है, देश का सम्मान बढ़ा है। आतंकवाद के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने जो कार्रवाई की उससे देशवासियों का मनोबल ऊंचा हुआ है। श्री कुमार ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने विकास के लिए जो भी काम किया उससे हर तबके को लाभ मिला जबकि खासकर गरीब गुरबों का उद्धार हुआ है। श्री कुमार ने करीब 14 मिनट 32 सेकंड के संबोधन में कहा कि केंद्र सरकार ने गरीब परिवारों की महिलाओं को खाना बनाने में ईंधन के रूप में फ्री में रसोई गैस देकर हद तक सहूलियत दी है। कहा कि जिन गांव व शहरी कस्बों की महिलाओं को खाना बनाने में चूल्हा फूंकने और धुआं झेलने पड़ते थे, आज वैसे महिलाओं के लिए केंद्र सरकार ने उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेंडर देकर राहत दी है।
उन्होंने केंद्र सरकार की पांच सालों की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि गरीब परिवार के इलाज के लिए केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना लाया। जिससे गरीबों को 1 साल में पांच लाख रुपए की मदद मिल रही है। कहा कि ऐसी योजनाओं को नरेंद्र मोदी चलाते हैं जिससे देश के हर तबका लाभान्वित होता है, खासकर गरीब गरबों का उद्धार होता है।
कहा - पीएम ने पांच सालों में जितना काम किया उससे देश की प्रतिष्ठा बढ़ी
चुनावी सभा में मंच पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को माला पहनकार स्वागत करते कार्यकर्ता।
बिहार में लालटेन की जरुरत नहीं
सीएम नीतीश न्यू जनसभा में बिहार में विकास और 13 सालों में भाजपा नित सरकार में हुए कामों को गिनाते हुए कहा कि हमलोगों को जब काम करने का मौका मिला तो न्याय के साथ विकास हुआ। सूबे के हर जिले के हर इलाके चाहे वो पहाड़ी इलाका हो, वन्य इलाका हो या फिर बाढ़ की त्रासदी झेलने वाला चहुओर विकास हुआ। सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य सहित सभी क्षेत्रों में काम हुआ। खासकर बिजली के क्षेत्र में हमलोगों ने ऐसा काम किया कि अब एक बल्ब के सहारे पूरे बिहार में लालटेन की जरूरत खत्म हो गई, 2020 तक हर हर घर में बिजली कनेक्शन होगा। जनसभा की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र पाण्डेय व संचालन लोजपा जिलाध्यक्ष रामयश कुशवाहा ने की। मौके पर मंत्री जय कुमार सिंह, रामगढ़ विधायक अशोक सिंह, भभुआ विधायक रिंकी रानी पाण्डेय आदि थे।
सीएम की सभा में जुटी महिलाएं।
सीएम नीतीश की सभा में पानी लूटने के लिए टूटे लोग
सीएम नीतीश की सभा में मौजूद जनता के बीच पानी लूटने की होड मच गई। हुआ कुछ यूं कि सभा में भीषण गर्मी व धूप को देखते हुए पार्टी की तरफ से पाउच का पानी वितरित किया जा रहा था। इस दौरान कार्यकर्ता बोरे में पाउच लेकर वितरित करने के लिए जा ही रहे थे कि कुछ लोगों के बीच पानी लूटने की होड मच गई।
देश आगे बढ़ रहा है, विदेशों में इज्जत बढ़ रही है
चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री कुमार ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है, विदेशों में इज्जत बढ़ रही है। केंद्र सरकार से पिछले पांच सालों के दौरान बिहार राज्य के चहुमुखी विकास के लिए मदद मिल रही है। कहा कि पीएम मोदी देश के लिए तो काम कर ही रहे हैं, बिहार के विकास के लिए 50 हज़ार करोड़ के योजनाओं को मंजूरी दे दी है। चुनावी जनसभा के सम्बोधन में विपक्षी पर हमलावर हुए श्री कुमार ने कहा कि जिस समय बिहार की जनता ने विपक्षियों के हाथों में सत्ता की चाबी सौंपी विकास का कोई काम नहीं हुआ।